कमीशनर ने अधिकारियों को लगाई फटकार। 


चार हजार बुनकर परिवारों में से मात्र 325 परिवारों का सर्वे, बुनकरों के सर्वे की धीमी गति पर आयुक्त ने फटकार लगायी है। कहा, अगर यही हाल रहा तो संबंधित अधिकारियों के विरुद्ध कार्रवाई की जायेगी। आयुक्त अजय कुमार चौधरी ने बुनकरों के सर्वे की धीमी गति पर फटकार लगायी है। कहा, अगर यही हाल रहा तो संबंधित अधिकारियों के विरुद्ध कार्रवाई की जायेगी। सोमवार को वे बुनकर और सिल्क से जुड़े विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक कर रहे थे।
आयुक्त ने बताया कि चार हजार बुनकर परिवारों का डोर-टू -डोर सर्वे करना है। अभी तक मात्र 325 परिवारों का सर्वे हो पाया है। सर्वे टीम को प्रतिदिन 30 से 35 परिवारों का सर्वे करने को कहा गया है। सर्वे में यह भी पता लगाना है कि एक मीटर से कितने पावरलूम चल रहे हैं। सभी को अलग-अलग कनेक्शन दिया जाएगा।
सर्वे के दौरान आधार नम्बर भी दर्ज किया जाएगा ताकि सही लोगों को सरकार की योजनाओं का लाभ मिल सके। सर्वे को वेबसाइड पर अपलोड किया जाएगा। आयुक्त ने बताया कि सिल्क प्रशिक्षण संस्थान के लिए तीन सदस्यीय टीम का गठन किया गया है। प्रशिक्षु आईएएस भवेश मिश्रा को नोडल पदाधिकारी बनाया गया है। संस्थान को मान्यता दिलाने के लिए टीम संस्थान के संसाधनों का अध्ययन पर प्रस्ताव देगी।
10 दिनों में प्रस्ताव बना कर देने का निर्देश दिया गया है। आयुक्त ने बताया कि सिल्क शिक्षण संस्थान परिसर में कॉमन फेसिलिटी सेंटर बनाया जाएगा। वाशिंग, ड्राय और रंगाई के प्रशिक्षण की व्यवस्था की जाएगी। संस्थान में संसाधन बढ़ाकर मान्यता दिलाने का प्रयास किया जाएगा। आयुक्त ने बताया कि सिल्क भवन में जो कार्यालय रहेंगे उससे किराया लिया जाएगा। किराया केवल रखरखाव के लिए लिया जाएगा। इस संबंध में उद्योग विभाग से बात हुई है। बुनकरों को परिचय पत्र दिया जाएगा। पावरलूम मशीन पर नम्बर भी अंकित किया जाएगा।

Advertisements

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s